आतंक पर प्रहार “एक्सरसाइज़ शक्ति-2019”

0
EXERCISE SHAKTI CONTINGENTS TRAIN HARD
EXERCISE SHAKTI 2019

बीकानेर, (समाचार सेवा)। आतंक पर प्रहार “एक्सरसाइज़ शक्ति-2019”, जिले के महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में चल रहे भारत व फ्रांस के द्वैपाक्षिक संयुक्त प्रशिक्षण अभ्‍यास के तहत मंगलवार को दोनों देशों के सैनिकों ने गुत्थम-गुत्थे की लड़ाई के कौशल को बढ़ाने का अभ्‍यास किया।

किया गुत्थम-गुत्थे की लड़ाई का अभ्‍यास

साथ ही गुप्त सैन्य गतिविधियों द्वारा विध्वंस की क्षमता और शीघ्रगामी, स्थितिजन्य प्रतिवर्ती निशानेबाजी का भी अभ्‍यास किया।  साथ ही गुप्त सैन्य गतिविधियों द्वारा विध्वंस की क्षमता और शीघ्रगामी, स्थितिजन्य प्रतिवर्ती निशानेबाजी का भी अभ्‍यास किया। 

रक्षा प्रवक्ता कर्नल संबित घोष ने बताया कि अभ्‍यास के दौरान अंतर-संचालन को प्राप्त करने के उद्देश्य से दोनों सेनाओं के सैनिकों हेतु युद्ध की कठिनाईयों को ध्यान में रखते हुए युद्ध अनुकूलन और कौशल को बढ़ाने के लिए शिक्षण सश्त्रों का आयोजन किया गया। उन्होंने बताया कि पारस्परिक विश्वास को बढ़ाने के लिए दोनों देशों की शास्त्रों और उपकरणों की प्रदर्शनी भी लगाई गई।

कर्नल घोष ने बताया कि सैनिकों को दोनों देशों के शस्त्रों और उपकरणों तथा उनके संचालन और निर्देशन की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि अभ्‍यास में आधुनिक हेलीकॉप्टरों द्वारा ओपरेशन के प्रशिक्षण को भी शामिल किया गया।

कर्नल घोष ने बताया कि सेना के इस अभ्‍यास का समापन विधिमान्य सत्यापन अभ्‍यास के साथ 10 से 12 नवंबर को होगा।

Advertisements
SAMACHAR SEVA TELEGRAM
Advertisements
ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here