नया नौ दिन, पुराना सौ दिन

PANCHNAMA-USHA JOSHI DAINIK NAV JYOTI - Copy
PANCHNAMA-USHA JOSHI DAINIK NAV JYOTI

पंचनामा : उषा जोशी

नया नौ दिन, पुराना सौ दिन, जांगळ देश के कलक्टर की सक्रियता से सरकारी महकमे के लोग सकते में हैं, सफाई मजदूर से लेकर अधीनस्थ अधिकारी तक अलर्ट मोड में है ना जाने कब और कहां कलक्टर साहब प्रकट हो जाएं।

कड़ाके की इस ठंड के बावजूद आम सरकारी कारिंदों के घरों में प्रात: काल से ही हचलल शुरू होने लगी है।

पहले धूप निकलने पर दफ्तर पहुंचने वाले और धूप नहीं निकले तो अनऑफिसियली छुट्टी मनाने वाले साहब और बाबू भी समय पर दफ्तर पहुंच रहे हैं।

PANCHNAMA-USHA JOSHI DAINIK NAV JYOTI BIKANER

दफ्तरों में भी लोग दबी जुबान चर्चा करते हैं कि कलक्टर साहब कहीं कुछ अधिक ही सक्रिय तो नहीं हो रहे हैं, इसके पीछे माजरा क्या है।

अब जब तक उनको माजरा समझ में नहीं आता तब तक तो सही समय पर दफ्तर आना ही पडेगा।

कलक्टर साहब भी दारु की दुकान चलाने वालों से लेकर सफाईकर्मियों तक स्कूल के शिक्षकों से लेकर सरकारी अधिकारी-कर्मचारी सभी को सही करने की धुन में जुटे हुए हैं।

नया नौ दिन पुराना सौ दिन कहावत को मामने वाले अब कलक्टर साहब के सौ दिन पूरे होने का इंतजारा कर रहे हैं।

सेवानिवृत्तों व बाहरी लोगों के भरोसे जिला परिषद

जांगळ प्रदेश में जिला परिषद के हाल बुरे ही नहीं बदतर है।

यहां अधिकारियों व कार्मिकों की इतनी कमी है कि कुछ अधिकारी तो दूसरे विभागों से डेप्यूट करने पड़ रहे हैं और कुछ सेवानिवृत्त कार्मिकों के भरोसे काम धिकाये जा रहे हैं।

सुनने में तो यह भी आया है कि कुछ सेवानिवृत्त कार्मिकों को दुबारा काम करने का सरकारी आदेश ना होते हुए भी  आदेश के इंतजार में उन्हीं कार्मिकों से काम लिया जा रहा है।

सरकार की कोई भी योजना हो सबसे कम नतीजे अगर मिलते हैं तो वो जगह है जिला परिषद, पंचायतीराज वि•ााग व ग्रामीण विकास विभाग।

करोड़ो रुपये का बजट, बस इस बैंक से उस बैंक में रखने व ब्याज पाने का काम ही हो रहा है।

आंकड़ों का कागजी जाल ऐसे दिखाया जाता है जिसमें सभी खो जाते हैं।

एक और चुनाव की आचार संहिता लगने वाली है जिला परिषद वालों को काम नहीं करने के इस अच्छे बहाने का बेसब्री से इंतजार है।

खाकी के रंग निराले

नई सरकार आने के बाद शहर में ऐसा कोई अपराध नहीं है जो ना हुआ हो।

मगर कहीं कोई हल्ला नहीं है। ना जिम्मेवार आलाधिकारियों के खिलाफ कोई बड़ी कार्रवाई हो रही है ना ही सर्दी में सितम ढा  रहे चोर उच्चकों को रोकने का कोई काम।

कलक्टर साहब ने एक शराब की दुकान से रात आठ बजे बाद शराब खरीदकर खाकी महकमे में हलचल पैदा कर दी। इस हलचल का नतीजा है कि संबंधित थानाधिकारी जी को लाइन हाजिर करना पड़ गया।

खाकी वाले अब चाहते हैं कि आबकारी वाले अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई हो।

मंत्रियों तक पहुंची कलक्टर की शिकायत

कलक्टर साहब की सक्रियता से परेशान कुछ कार्मिक अब अपने राजनीतिक आकाओं तक बात पहुंचाने लगे हैं।

राजनीतिक आका है कि इस मामले में फिलहाल कुछ कहने व करने की स्थिति में नहीं है।

कुछ लोग कहते हैं कि जिले के आला मंत्री की सहमति से कलक्टर साहब सक्रिय हैं। 

जबकि कुछ लोग कहते हैं जो भी हो रहा है वो सब ठीक हो रहा है। अब तक जितने भी कलक्टर आये ऐसी सक्रियता किसी ने दिखाई ही नहीं।

यदि दिखाई होती हो शहर का ये हाल ना होता।

Samacharseva.in Best News portal of Bikaner Local News and Events नमस्कार साथियों, samacharseva.in न्यूज वेबसाइट बीकानेर (राजस्थान) से संचालित है। यह एक न्यूज ग्रुप है। इसके के लिये समाचार, फीचर, फोटो व वीडियो samacharseva@gmail.com तथा neerajjoshi74@gmail.com पर भेज सकते हैं। हमें 9251085009, 9521868060 पर कॉल कर सकते हैं, व्हाटस एप पर संदेश दे सकते हैं। एसएमएस भेज सकते हैं। साथ ही 0151-2970812 पर कॉल पर संपर्क कर सकते हैं अथवा अपना संदेश फैक्स कर सकते हैं। समाचार सेवा गुप का एक यूटयूब चैनल SAMACHAR SEVA भी है। हमारा फेसबुक पेज https://www.facebook.com/SamacharSevaBikaner है। लिंकड इन पेज https://www.linkedin.com/feed/?trk= है। टिवटर पेज https://twitter.com/neerajoshi है। गूगल प्लtस पेज https://plus.google.com/u/0/+SAMACHARSEVA है। इंस्‍टाग्राम पेज https://www.instagram.com/neerajjoshi_/ है।