खाजूवाला एसडीएम को महंगे पड सकते हैं खाजूवाला सीआई को कहे अपशब्द

0
khajuwala

बीकानेर, (samacharseva.in)।खाजूवाला के उपखंड अधिकारी संदीप कुमार दवारा खाजूवाला के थानाधिकारी सीआई विक्रमसिंह चौहान को फोन पर कहे गए अपशब्‍द व सीआई के साथ किया गया दुर्वव्‍यवहार महंगा पड़ सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार खाजूवाला के सीआई विक्रम सिंह ने अपने साथ हुए दुर्वव्‍यहार की जानकारी बीकानेर के जिला पुलिस अधीक्षक को ऑडियो रिकार्डिंक के साथ कर दी है।

जिसे जल्‍द सरकार तक पहुंचाये जाने की तैयारी है। खाजूवाला सीआई के साथ का वाकया गुरुवार की रात को शुरू हुआ बताया जाता है। गुरुवार की रात लगभग 8 बजे एसडीएम खाजूवाला ने खाजूवाला सीआई नोटिस देकर बाहरी श्रमिकों को थाना सीमा में नहीं रोके जाने पर उनके खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही थी। इस नोटिस का जवाब भी खाजूवाला सीआई ने दे दिया था। बाद में गुरुवार की देर रात को ही एसडीएम खाजूवाला ने सीआई चौहान को फोन किया। यह फोन बीच में कट गया था। जब फोन कनेक्‍ट हुआ तो खाजूवाला एसडीएम ने सीआई चौहान को भददी भददी गालियां देनी शुरू कर दी। लगातार उनके साथ दुर्वव्‍यहार किया। एसडीएम जितना भयंकर दुर्वव्‍यहार कर सकते थे और जितने भयंकर अपशब्‍द कह सकते थे सबका इस्‍तेमाल कर लिया। सीआई ने फोन पर हुई सारी बात अब ऑडियो के रूप में शिकायत के साथ पुलिस अधीक्षक को भेजी बताई गई है।

Advertisements
ads

सूत्रों की माने तो इस शिकायत की गोपनीय जांच की जा रही है। थाना‍धिकारी विक्रम सिंह ने जहां इस बारे में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है। वहीं समाचार सेवा के बार बार फोन किए जाने के बाद भी एसडीएम खाजूवाला संदीप कुमार ने फोन पर अपना पक्ष नहीं दिया। जानकारी के अनुसार जैसलमेर की ओर से आकर बीकानेर होते हुए श्रीगंगानगर की ओर जाने वाले कुछ श्रमिकों को लेकर पहले श्रीगंगानगर के कलक्‍टर व बीकानेर के खाजूवाला के एसडीएम के बीच तल्‍ख बातचीत हुई थी। श्रीगंगानगर में कोरोना का एक भी मरीज नहीं है।

Advertisements
LONGI

ऐसे में श्रींगानगर में बाहर से आने वाले लोगों को घुसने नहीं दिया जा रहा है। यहां इस दौरान हुए विवाद के बाद खाजूवाला एसडीएम के व्‍यवहार को लेकर सीएमओ शिकायत भेजी गई थी। खाजूवाला पुलिस सूत्रों के अनुसार जैसलमेर की ओर से आने वाले श्रमिक परमिशन लेकर आते हैं यदि उनको रोकना ही है तो पहले जैसलमेर में ही रोका जा सकता है। खाजूवाला में रोकने से पहले तो उन्‍हें बज्‍जू थाने या दंतौर थाने पर भी रोका जा सकता है, खाजूवाला का नंबर तो इनके बाद में आता है जब पहले कहीं नहीं रोका जा रहा तो किस प्रकार किसी को रोका जाए।

सूत्रों की माने तो इस संबंध में खाजूवाला एसडीएम के खिलाफ श्रीगंगानगर के कलक्‍टर ने भी सीएमओ में शिकायत की हुई है। कुछ ही दिन पहले श्रीगंगानगर के रावला में बीकानेर जिले से गये मजदूरों को रोका गया और खाजूवाला एसडीएम को रावला बुलाकर स्‍पष्‍टीकरण मांगा गया था। तब भी एसडीएम का व्‍यवहार रुखा था। 

Advertisements
Advertisements
ad
Previous articleशुक्रवार 24 अप्रैल 2020 समाचार सेवा न्‍यूज बुलेटिन
Next articleघरेलू झगड़े के कारण अर्चना ने की आत्महत्या!
Samacharseva.in Best News portal of Bikaner Local News and Events नमस्कार साथियों, samacharseva.in न्यूज वेबसाइट बीकानेर (राजस्थान) से संचालित है। यह एक न्यूज ग्रुप है। इसके के लिये समाचार, फीचर, फोटो व वीडियो samacharseva@gmail.com तथा neerajjoshi74@gmail.com पर भेज सकते हैं। हमें 9251085009, 9521868060 पर कॉल कर सकते हैं, व्हाटस एप पर संदेश दे सकते हैं। एसएमएस भेज सकते हैं। साथ ही 0151-2970812 पर कॉल पर संपर्क कर सकते हैं अथवा अपना संदेश फैक्स कर सकते हैं। समाचार सेवा गुप का एक यूटयूब चैनल SAMACHAR SEVA भी है। हमारा फेसबुक पेज https://www.facebook.com/SamacharSevaBikaner है। लिंकड इन पेज https://www.linkedin.com/feed/?trk= है। टिवटर पेज https://twitter.com/neerajoshi है। गूगल प्लtस पेज https://plus.google.com/u/0/+SAMACHARSEVA है। इंस्‍टाग्राम पेज https://www.instagram.com/neerajjoshi_/ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here